[Latest 50+] Mood off Shayari in Hindi | बेस्ट मूड ऑफ शायरी हिंदी में

mood 2Boff 2Bshayari

[Latest 50+] Mood off Shayari in Hindi | बेस्ट मूड ऑफ शायरी हिंदी में – अगर आपको मूड ऑफ शायरी हिंदी में चाहिए तो ये जगह आपके लिए सबसे अच्छा है। इस पोस्ट में हम्म आपके लिए बहत सारे Unique और बेहतरीन 50+ Mood off Shayari in Hindi लाएहे। 

अगर आपका मूड किसीभी बजे से खराप है तो, आप शायरी को पढ़िए आवक मूड ठीक हो जाएगा। अगर आपको हुम्मारी ये Mood off Shayari in Hindi पसंद आता है तो आपके दोस्तों के साथ शेयर कीजिये।

किसीको भुलाना इतना आसान नहीं है
जो करीबी लोक होते है वो अफसर याद आते है

आज मूड कुछ अच्छा नहीं
जिस सपने की उम्मीद थी वो बिखर गई

ये चांद को क्या पूछूं वो चांद के बारे मै
ये चांद तो साम से सुबह तक दिखाई देती है
पर वो चांद को तो हम कब से नही देख रहे

क्या ज़रूरत थी उनके पास जानें की
तुमको देखा फिर भी पुकारा नही

लोगो के साथ कदम मिलाके हमको चलना नही
हमको तो वो करना है जो हमारा दिल कही

सपने देखने का मजा ही कुछ अलग है
सपने पूरा करने की तकलीफ भी अलग है
ना जाने ये सपने भी क्यू आते है
जो हम कभी पुरा नही कर पाते

Mood off Shayari Boy Hindi

बेदर्द सा जिंदा हुं मै
जिस पल के इंतजार मै थे
वो पल ही रुला दिया हमें

दिल की आंसु को कैसे बताऊं की हम रो रहे है
ये तो सिर्फ़ पानी की तरह बह रहा है
और दिल की ज़ख्म को कैसे कहूं की वो थामे
क्यू की उसको गहरा सा चोट लगी है

नही समझे वो हमरे प्यार को
इसीलिए समझा रहे इस दिल को
तु भूल जाओ उन बेवफाओ को

सोचता हूं जो तोड़ी सी सांस बची है
उसको भी खतम कर लू
याद करता हुं क्यू की तुम जान की तरह हो
इसीलिए जान ही गाबा दूं

पहले ये रास्ते चलना बहत आसान थी
जब कदम पड़ी फूलो की बारिश हुए
अब ये हमको कांटे की सजा दे रही

मेरी कहती  हुई पन आज खामोश हो गई
जिसके साथ हम बाते करते वो आज नही रही

Mood off Shayari for Girl Hindi

हरपल तुम्हे सोचने की आदत थी हमे
अब कैसे गुजरू वो पल जिसमें खो दिया हुं तुम्हे

हमको वो सक्स से महब्बत हुई
जिसको समझना मुश्किल हुई
खुद से ज्यादा उनको चाहा
जिसका नतीजा कुछ नही हुआ

शायद दिल मै खुशी के लिए कोई जगह नही है
दर्द ने सारे जमीन को कब्जा करली है

और कितना इंतजार करूं मैं उनकी
जो आंखो मै कभी कमी नही होती आंसुओ कि
अब तो उन्हे याद करने की आदत जो लग गई
जो हरपल अंशुओ की बरसात मै भीग रही

वो लम्हा भी येसी आई जो हम रुला गई
जिस बातो को कभी  सोचे नही वो हो गई

किसीको ना बता पाते है ना सता पाते है
हम तो अंदर से ही रो रहे है
क्यू की रुलाने वाली दिल की करीब रहे रही हैं

Mood off Shayari for Boy

कभी हमसे  कुछ गलती हो गई है
आज जो हमको एहसास दिलाती है
क्यू की जो गलाती किया है उनको सजा जरूर मिलती है

तुम्हारी तरह सपने हम भी देखते थे
फर्क सिर्फ इतना है
हमारे सपने मै हम तुमको देखते थे
ओर तुम और किसीको

मेरे दर्द को महसूस करने को नही कहा तुमको
सिर्फ़ वो ही आया देखने को
चाहे जो भी हो मेरे इस दर्द मै तुम तो खुस हो

क्या हसी क्या दर्द ? क्या खुशी क्या गम ?
अब तो सबसे गुजर गए हम
जिस बार भी हम इनसे गुजरे नही रहेगा तकलीफ की दम

बहत दिनो से नही रोया था
इसीलिए ही आंखों मै आंसुओ की जगह नही है
जो आंखो से बरसने की तलाश मै थे और बरस गए

कहते है लोक
दिल की बात को किसीको बताओ तो दर्द कम हो जाता है
अब किसको बताए
जिसको हमारे सारी बात बताते थे वो आज हमसे दूर है

अब कोई ज़रूरत नही है तुम्हारी
तुम अब दिल मै नही हो
हम तो सिर्फ़ दिल मै दर्द को जगह दी

तुमको खुश रखने की कसम खाई थी
आज तुमने ही मेरे खुशी को छीन ली

Leave a Reply