Best 40+ Pagal Shayari & Status in Hindi | प्यार में पागल शायरी हिन्दी में

Pagal Shayari
अगर आप पागल शायरी खोज रहे हैं तो आप इंटरनेट पर सबसे अच्छी जगह पर हैं। हमारे पास है Best Pagal Shayari in Hindi/प्यार में पागल शायरी हिन्दी में.
अगर आप किसी के प्यार में पागल हो और उसको आपका प्यार जताना चाहते हो, आप हमारी प्यार में पागल शायरी हिन्दी में के मदत से आप गर्लफ्रेंड को आपकी feeling share कर सकते हो.
अगर आप उस फीलिंग को महसूस करना चाहते हो तो आप किसी से प्यार करके देखो, उसके बाद आपको पता चल जायेगा की प्यार में पागल होने क बाद फीलिंग केशा होता हे.
इस फेल्लिंग क बजेसे हुमंने आपके लिए ये Pagal Shayari लिखे हैं, अगर आप इस Pagal Shayari/प्यार में पागल शायरी हिन्दी में पसंद आती तो आपके Friends और Girlfriend के साथ शेयर कीजिये. 

यहाँ तक तो आये हो
थोड़ा और करीब हो जाओ
क्युकी तुम हमसे मिलने के लिए पागल हो

तेरी भीगी भीगी यादों मैं न
एक ठंडी सी हवा लहरा रहा है
जिसे सोच के दिल को
ठंडी सी सुकूं मिलती है
अब बता कौन पागल नही होगा तेरे लिए

जिगर का जख्म को तू क्या देख पाएगी
तुझमे पागल हूँ तू क्या समझ पाएगी

तुम्हारे बिस्वास मै क्या है जो मुझे रोकेगा
पागलों की तरह चाहत हूँ
एक दिन ज़रूर जीतूँगा

समझ अगर प्यासा हूँ
तो पानी को ढूंढूंगी न
पागलों की तरह तुम पे मरता हूँ
तुमको ही चाहूँगी न

दिल तो था तुम्हारा एक बेलून जैसा
जिसको छूते ही फट गया
कैसे समझाऊं इस पागल दिल को
जो प्यार से बच गया

Pagal Shayari

Pagal pan Shayari

प्यार मै सिर्फ चाहत होती है बदनाम नहीं
अगर मेरा प्यार मुझे बदनाम लगती हो तो रहने दो
पागल था तुम्हारे प्यार के लिए
अगर यकीन नहीं हो तो दिल को ज़ख्म से रोने दो

क्या जादू कर दिए तुमने
जो सोचता रहता  हूँ तुम्हारे बारे मई
कैसी ये पागलपन है जो हरपल देखता हूँ तुमको सपने मे

ये बरसात के मौसम में तुम्हारी यादें
और शाम की ठंडी सी हवा मै तुम्हारी बाते
इन यादो मे दुबके तुम्हारे लिए एक गाना लिखते
जो पागलों की तरह हर पल गाते रहते

काश ये भी सच होते
तुम्हारी गोद हम हमारे शर रखते
और तुम पागल की तरह रोते और केहेते
मुझे तुम कही और ले जाते
जहाँ हम और तुम होते

बुमरा गया हूँ उसी यार स ए
जिसे पाने के लिए तरस गया हूँ दिल से
न जाने वो मंजिल कभी हासिल होगी
और मेरे ये पागलपन खत्म होगी

तेरी चेहरा को ज़रा छुपके चल
तुझे देखते ही हो जाता हूँ पागल
क्युकी मोह्हबत हुई है तुमसे गजल
अब तेरे सिवा कौन करेगी मेरी फ़िक्र
मेरी जान ज़रा आजा तू इधर

Pagal Shayari

Pagal Funny Shayari in Hindi

फ़िक्र करो इस प्यार की
ख्वाहिश है तुमको पाने की
यकीं ज़रा करो चाहत इस दिल की
ये पागल

तुम ज़रा वो चाँद से पूछो
जिस चाँद मै तुम्हारी चेहरा दिखी
वो चाँद बताएगा कहानी इस पागल की
हम तुम्हारी यादों मे रोएथे कितनी

तुम जितना भी हमको पागल कहते हो
हमको उतना ही अच्छा लगते हो
क्युकी हम पागल कही से नही हुए
तुम्हारे प्यार मे ही हुए

बातो बाटो मै समझता हूँ तुझको
मत चाहे उतना वो सेक्स को
क्युकी जिसके लिए तू पागल है ऐसे
वो जीता है किसी और के लिए

पागल हूँ तुम्हारी यादो मई
क्युकी वो साँस की तरह ही हो मुझमे
एक न एक दिन तुम भी जीओगी मेरे लिए
क्युकी मेरा दिल अटक गयी है तुझमे

पगला गया हूँ मै दोस्ती के खातिर
मेरे दोस्त है ही ऐसे मेरे लिए
जो मेरे हर मुसीबत मे कम ए
हर कोई भी खुस होगा उसनसे मिलके

Pagal Shayari

पागल शायरी हिन्दी मे

खुसिया तो बहत दे दी तुमने
पैर ऑंसू कहा से आ गयी जो इतना भिगा के चली गयी
प्यार करने से पहले पागल तो हमें कहती थी
आज सच्मुझ पागल बना दी

रहम करो ज़रा इस दिल का
ये दिल चाहता है तुमको अपनाने का
क्या बरसात होगा इस दिल मैं
फिर से फसल उग्ले का इस दिल की ज़मीं मे
जो कब से पागल है तुम्हारी चाहत मई

हमरे पिता जी हमारे लिए भगवान् सा है
और माता जी तो धरती बन कर आये है
जिनके गोद मे हम पले बढे है
उनके लिए सिर्फ पागल होना नहीं
जान भी देना पसन्द करेंगे

तुम्हारे हाथों मैं क्या ज़ादू रखा है
जिसको पकड़ने के लिए इस दिल पागल है
कब मिलेगी तुम्हारी हाथ
और तुम रहोगी मेरे साथ

कास उनको पता होता मेरे पागल पन की
जिस पागल को ज़रुरत है उनकी
वो इंतज़ार मे है उस दिल की
जिसमे शुरुआत हुई है एक नया मंजिल की

प्यार उनसे हुई कमाल की हुई
पहले मैं पागल था फिर वो पागल हुई

Pagal Shayari

पागलपन शायरी हिंदी में

एक बात तुझे कहना चाहता हूँ ज़रा सुनली
तू जिसके लिए पागल है
वो तेरे सामने खड़ा है पेहचानले

वो है मेरी रानी
जिसको देखके दिल हुआ पानी
बनना चाहता हूँ मेरी दीवानी
ये है इस पागल की कहानी

प्यार ही ऐसी है ,
अच्छे अच्छों को बदल देता है
हम भी क्या बच पाये इस मई
हम भी पागल हो गए और किस मई

क्या मांगू मैं रब से प्यार के खातिर
वो भी पागल है हमारे खातिर
बताती नहीं सततति रहती है
ये दिल इतना पागल है उसके लिए
इसको वो समझती भी नहीं है

पागल तो हूँ पर इतना भी नही जितना तुम सोचते हो
उससे भी ज़्यादा तुम हमको पागल किए हो
प्यार हम करते है पर इतना भी नही जितना तुम सोचते हो
उससे भी ज़्यादा तुम हमारे चहत मे हो

Leave a Reply